मुम्बई ।  महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस  ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे  से पत्र लिखकर कहा है कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी  ने 30 जनवरी 2021 को पुणे में आयोजित एल्गार परिषद में हिन्दू समाज के खिलाफ जो आपत्तिजनक वक्तव्य दिया उससे समस्त हिन्दू समाज की भावना आहत हुई है। उन्होंने शरजील उस्मानी के खिलाफ राज्य की सरकार को जल्द से जल्द कड़ी कार्रवाई करने की मांग  की है।
अपने पत्र में फडणवीस ने लिखा है कि ''हिन्दवी स्वराज्य के संस्थापक छत्रपति शिवाजी महाराज के महाराष्ट्र में कोई भी आए और यहां का माहौल खराब करके चला जाए, यह हमें मंजूर नहीं है। शरजील उस्मानी नामक दुर्भावना से युक्त युवा महाराष्ट्र में आकर हिन्दू समाज को अपमानित करता है और उसके ऊपर अभी तक कोई कानूनी कार्रवाई राज्य सरकार द्वारा नहीं की जाती है, यह आश्चर्यजनक है।'' 
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री फडणवीस ने अपने पत्र में इस बात का ज़िक्र किया है कि 30 जनवरी 2021 को एल्गार परिषद पुणे में दिए हुए अपने भाषण में शरजील उस्मानी ने हिन्दू समाज के खिलाफ कहा था  ‘आज का हिन्दू समाज, हिंदुस्तान में हिंदू समाज बुरी तरीके से सड़ चुका है। ये जो लोग लिंचिंग करते हैं, कत्ल करते हैं, ये कत्ल करने के बाद अपने घर जाते हैं तो क्या करते होंगे अपने साथ? कोई नए तरीके से हात धोते होंगे, कुछ दवा मिलाकर नहाते होंगे। क्या करते हैं ये लोग कि वापस आकर हमारे बीच खाना खाते हैं, उठते-बैठते हैं, फिल्में देखते हैं। अगले दिन फिर किसी को पकड़ते हैं फिर कत्ल करते और नॉर्मल लाइफ जीते हैं। अपने घर में मोहब्बत भी कर रहे हैं, अपने बाप का पैर भी छू रहे हैं, मंदिर में पूजा भी कर रहे हैं, फिर बाहर आकर यही करते हैं।'