कुछ ही दिन पहले भोलेनाथ के भक्तों के लिए अच्छी खबर आई थी, जिसे सुनने के महादेव का हर उपासक प्रसन्नता से भर गया था। यह खुशखबरी थी कि 28 जून से अमरनाथ यात्रा के शुरू होने की संभावना जताई जा रही थी। जिसे लेकर आज एक और जानकारी सामने आई है। जी हां, श्री अमरनाथ यात्रा को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है, जिसके तहत लगातार दूसरे साल, अमरनाथ की यात्रा को रद्द कर दिया गया हैै। बीते वर्ष जहां इस यात्रा को रद्द करने का कारण देश दुनिया में फैली महामारी कोरोना थी, तो इस वर्ष इस कारण के साथ और कई कारण जुड़ गए हैं।

खबरों के अनुसार जम्मू- कश्मीर में इन दिनों चाहे कोविड की रफ्तार कुछ धीमी हो गई है, मगर तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए प्रशासन कोई जोखिम नहीं लेना चाहता है। इसी के चलते एहतियातन यात्रा को रद्द करने का फैसला लिया गया है।

1 अप्रैल से शुरू हुआ था रजिस्ट्रेशन, 28 जून से होनी थी यात्रा
बता दें सामान्य दिनों में हर साल हजारों लोग पावन गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए जम्मू-कश्मीर जाते हैं। जिसके लिए जम्मू-कश्मीर बैकों के साथ-साथ अन्य बैंकों में इसका पंजीकरण शुरू हो जाता है। इस साल भी यात्रा के लिए ऑफलाइन पंजीकरण 1 अप्रैल से शुरू किया गया था। जिसके तहत 28 जून से यह यात्रा शुरू होनी थी, मगर यात्रा रद्द होने से बाबा के हजारों भक्तों को मायूसी हाथ लगेगी।

खबरों के अनुसार इस बार की यात्रा को टाले जाने के दो मुख्य कारण, यात्रा में आंतकी हमला की संभावन व जम्मू-कश्मीर में किसी सियासी चाल को अंजाम देने की कोशिश हैं। इसलिए लोगों को सुरक्षा के मद्देनजर एक बार फिर इस साल भी यात्रा को टाल दिया गया है।