पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ  की आज भोपाल में एएनआई से चर्चा 

मुझे बड़ा दुख है कि इतनी गंभीर स्थिति जो आज प्रदेश में उत्पन्न हुई है , उससे बचाव को लेकर मध्यप्रदेश में कोई विजन नहीं है ,कोई प्लानिंग नहीं की गयी ?

आज अस्पतालों में ना दवाई है ,ना इंजेक्शन है, ना ऑक्सीजन है , ना डाक्टर्स है , ना एंबुलेंस है , यह हालत है हमारे प्रदेश की ? यहाँ तक कि कोरोना के उपचार में उपयोग में आने वाली दवाइयां भी पर्याप्त नहीं है ? आज शिवराज जी बड़ी तसल्ली से कह रहे है कि इंजेक्शन हेलीकॉप्टर से बुलवा रहा हूं ,ट्रेन से बुलवा रहा हूं।कोरोना के इलाज में ऑक्सीजन सबसे पहली आवश्यकता होती है मरीज के लिये , अक्टूबर में घोषणा की थी कि फ़रवरी में 19 प्लांट ऑक्सिजन के लग जाएंगे , कहाँ है ? होशंगाबाद के बाबई में शिलान्यास किया था सितंबर - 2020 में , वहाँ तो आज तक बाउंड्री वाल तक नहीं बन पाई ?

केवल जनता को झूठ बोलना और गुमराह करना इनका काम है।

अब लगे है कि किस प्रकार से आंकड़े छिपाये जाये , आज टेस्टिंग नहीं ,आज  टेस्टिंग की रिपोर्ट 4 से 8 दिन में मिल रही है , जब तक कोरना संक्रमित मरीज़ घूमता रहता है , रिपोर्ट के अभाव में वह दूसरों को संक्रमित करता है , इसको लेकर भी कुछ नहीं किया ?
3 माह पहले से डबल्यूएचओ से लेकर सभी ने चेतावनी  दी थी कि देश में कोरोना की दूसरी लहर आएगी ,विश्व में कई देशों में इसको लेकर तैयारी हुई लेकिन भाजपा की सरकार ने कोई तैयार नहीं की और आज जब आग लग गई है तो कुआं खोदने की बात कर रहे है ,कुआं भी खोद नहीं रहे , सिर्फ़ कुआं खोदने की  बात कर रहे हैं ? जिससे जनता को गुमराह किया जा सके।
कोरोना से हो रही मौतों व शवों की संख्या के रोज मीडिया सच्चाई व आंकड़े सामने ला रहा है और सरकारी आंकड़े देख लीजिए , आज यह हालत है कि बस किसी तरह से वास्तविकता को छुपाया जा सके ?
सरकार पूरी तरह से फेल साबित हुई है ,असफल साबित हुई है।यह एक अपराध है ,हत्या का अपराध है।आप जानते थे कि यह होने वाला है , यह सब आपकी लापरवाही के कारण हो रहा है ,आपकी लापरवाही से आज यह परिस्थिति पैदा हुई है।
 

मुझे दिन भर लोगों के प्रदेश भर से फोन आते हैं , ना दवाई ,ना इंजेक्शन ,ना बेड , ना इलाज , ना ऑक्सिजन ?

कांग्रेस के प्रदेश के सभी विधायक लगे हुए हैं ,जनता के सुख दुख में साथ खड़े है,सेवा कर रहे हैं लेकिन आज भाजपा के नेता गायब है , मुंह छुपाए बैठे हैं।
भाजपा के मंत्री किस तरह का बयान दे रहे हैं कि जिनकी उम्र होती है उनको जाना पड़ता है ? पर कोरोना के कारण असमय तो जाना नहीं पड़ता है ? इसीलिए टेस्ट नहीं कर रहे हैं ताकि आंकड़ों की वास्तविकता सामने नहीं आ पाये ,ये लोग धीरे-धीरे टेस्टिंग बंद करते जा रहे हैं ताकि इनकी असफलता सामने ना आये , इनका खुलासा ना हो ?
जब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी ,कोरोना को लेकर हमने फरवरी 2020 से ही तैयारियां चालू कर दी थी , उस समय तो कोरोना प्रदेश में आया नहीं था ,हम प्रबंध कर रहे थे लेकिन मार्च में ही भाजपा की सरकार आ गई थी।इनकी सरकार में स्थिति गंभीर बनी ,फिर इन्होंने बगैर प्लानिंग व योजना के लॉक डाउन लगाया ,मजदूर बेरोजगार हो गये ,अर्थव्यवस्था चौपट हो गयी , भाजपा के पास सिर्फ़ झूठे आरोप लगाने का ही काम बाक़ी है।प्रदेश में कहीं बाढ़ आ जाये ,ओलावृष्टि हो जाये ,अतिवृष्टि हो जाये तो यह उसका दोष भी कांग्रेस व कमलनाथ को देते है ?
 

मै चुनौती देता हूँ कि प्रदेश में ऐसा एक भी अस्पताल बताइये जहाँ दवाई ,इंजेक्शन , ऑक्सिजन , इलाज का पूरा प्रबंध है ?

जनता को सिर्फ आज भी गुमराह करने में व उनकी आँखो में धूल झोंकने में लगे हुए हैं ?
आज एक दिन में ही नो हज़ार संक्रमित मरीज़ों का आँकड़ा सामने आ रहा है ,जब टेस्टिंग सीमित है।आंकड़े वास्तविक बहुत ज्यादा है , जितने बताये जा रहे है , उससे 3 से 4 गुना ज़्यादा है ?
रेमड़ेसिविर के उत्पादन वाली कंपनियों से मैंने भी बात की है , वह प्रदेश में इंजेक्शन भेज रहे हैं।मेरे पास मुख्यमंत्री का फोन आया था ,उसको लेकर मैंने भी सभी दूर बात करी है।
आज यह सब नाटक-नौटंकी कर रहे है कि हम हेलीकाप्टर से मंगवा रहे है , यह काम पहले क्यों नहीं किया ? यदि यह पहले से ही आर्डर दे देते तो आज हेलीकॉप्टर से मँगवाने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती ? कई उत्पादन कंपनियों ने मुझे बताया कि मध्यप्रदेश सरकार ने हमें पहले से आर्डर ही नहीं किया है ? आज कमी हो गयी तो बता रहे कि इस इंजेक्शन की आवश्यकता ही नहीं है ?
शिवराज जी का झूठ बोले बग़ैर खाना ही हज़म नहीं होता है।दमोह में कह रहे है कि कमलनाथ मेडिकल कालेज छिन्दवाड़ा ले गये , यह महाझूठ है।फरवरी 2014 में केन्द्र सरकार ने मंज़ूरी दी ,2017 में शिवराज जी ने शिलान्यास किया ,उपचुनाव में
दमोह की जनता को गुमराह करने के लिए झूठ बोल रहे हैं।
 

इनके मिसमैनेजमेंट व लापरवाही के कारण आज प्रदेश की यह हालत है।

जनता का मूड समझकर शिवराज जी ने दमोह में रोड शो कैंसल किया।
यह मास्क पहनने का अभियान चलाएंगे लेकिन ना अस्पतालों में बेड देंगे , ना इंजेक्शन देंगे , ना ऑक्सीजन देंगे ?
आज हर वर्ग परेशान है ,नौजवान भटक रहा है ,किसान परेशान है ,हमारा छोटा मध्यम वर्गीय व्यापारी परेशान है ,आर्थिक गतिविधि चौपाट पड़ी है ,मध्यप्रदेश में कोई निवेश के लिए देख नहीं रहा है ,आज यह हालत है मध्य प्रदेश की ?
हमारी सरकार आज प्रदेश में होती तो यह स्थिति नहीं होती ,हम पूरी तैयारी करते ,इंजेक्शन , ऑक्सिजन , बेड , इलाज का पूरा इंतजाम करते।
शिवराज सिंह जी का फोन आने पर मेने सुझाव दिया था कि आप आपके जितने शासकीय भवन हैं इनको कोविड केयर सेंटर जल्द बनाये।
आज मुक्तिधाम के बाहर शव पड़े हैं ,वेटिंग चल रही है ,लकड़ियां नहीं है ,अंतिम संस्कार के लिए भी जगह नहीं बची है।
मै जनता से यही कहना चाहता हूँ कि आपको खुद अपनी रक्षा करना होगी ,इस सरकार से कोई उम्मीद मत रखें ,यह सरकार अपराधी है ,इनको जनता की कोई चिंता नहीं है , यह सिर्फ़ नाटक-नौटंकी से आपको गुमराह करना चाहती है।