ग्वालियर| केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बनने के बाद बुधवार को पहली बार शहर में आ रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत के लिए उनके समर्थकों द्वारा जोरदार तैयारी की जा रही है । स्वागत यात्रा मार्ग में 200 सत्कार मंच बनाए गए हैं। जहां सिंधिया का स्वागत किया जाएगा ।22 सितंबर को होने वाली सिंधिया की स्वागत यात्रा की तैयारियों को लेकर जहां भाजपा नेता और कार्यकर्ता जी जान से जुटे हुए हैं वहीं प्रशासनिक अमला भी सड़कों के गड्ढे भरने से लेकर अन्य तैयारियों में चकरघिन्नी बना हुआ है ।सिंधिया की स्वागत यात्रा के चलते शहर में करीब एक दर्जन मंत्रियों ने डेरा डाल दिया है ।कहा जाए तो आधी सरकार शहर में ही नजर आ रही है। ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया स्वास्थ्य मंत्री डॉ  चौधरी मंत्री हरदीप सिंह डंग राजवर्धन सिंह दत्तीगांव लोक निर्माण राज्यमंत्री सुरेश राज खेड़ा  नगरीय विकास एवं आवास राज्य मंत्री को पी एस भदौरिया सहित एक दर्जन मंत्री सिंधिया की स्वागत यात्रा का हिस्सा बनेंगे। सिंधिया की स्वागत यात्रा को यादगार बनाने के लिए जी जान से प्रयास किए जा रहे हैं ।पूरा यात्रा मार्ग दुल्हन की तरह सजा दिया गया है। जगह-जगह बैनर पोस्टर लगाए जा चुके हैं ।सिंधिया समर्थक स्वागत के बैनर पोस्टर लगाने के लिए अब जगह ढूंढ रहे हैं क्योंकि शहर का कोना कोना बैनर पोस्टरों से पहले ही पाट दिया गया है ।वहीं कांग्रेसी सिंधिया की इस स्वागत यात्रा का विरोध कर रहे हैं । सिंधिया की स्वागत यात्रा को राजनीतिक पंडित कुछ अलग ही नजर से देख रहे हैं ।यह यात्रा स्वागत की कम और शक्ति प्रदर्शन की अधिक लग रही है। स्वागत यात्रा के माध्यम से यह जताने का प्रयास किया जा रहा है। कि अब भाजपा में आने के बाद सिंधिया का कद पार्टी में बढ़ गया है ।वहीं अंचल की राजनीति में भी सिंधिया पहले की तरह ही मजबूत हैं।