भोपाल : मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों को 72वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ दी है। उन्होंने सभी नागरिकों के सुखद भविष्य की कामना की है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गणतंत्र दिवस के अवसर पर हम संविधान के आदर्शों के प्रति आस्था व्यक्त करते हैं। गणतंत्र का उद्देश्य ही एकता-अखण्डता, समावेशी विकास और लोक कल्याण है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व और प्रदेशवासियों के सहयोग से हम कोरोना महामारी पर विजय की ओर अग्रसर हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सुशासन और जन-कल्याण के लिये प्रदेश सरकार ने कई अभियान चलाये हैं। हमारा प्रदेश जन-कल्याण और विकास के प्रत्येक क्षेत्र में आत्म-निर्भरता की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा है। 'आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश' के रोडमैप के अनुसार प्रदेश के सभी जिलों में कार्य प्रारंभ हो चुके हैं। हम इसके लक्ष्य को जरूर प्राप्त करेंगे। नागरिकों को शासकीय सेवाएँ और लाभ सरलता से समय-सीमा में मिलें, इसके लिए सुशासन को निरंतर प्रभावी और व्यापक बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गणतंत्र दिवस के सुअवसर पर हम संविधान निर्माता डॉ. बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर, संविधान सभा के सदस्यों के योगदान और देश के अमर शहीदों के बलिदान को याद करते हैं। देश के लिये इनके योगदान पर गर्वित होने का दिन भी है गणतंत्र दिवस।