प्रयागराज । जिले में एक किषोरी को पांच युवकों ने अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। हैवानों ने उसे कई दिनों पर अपनी ही गिरफ्त में रख और उसके साथ कई बाद दुष्कर्म किया। बाद में उसे बेहोशी की हालत में उसे फेंक कर फरार हो गए। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपितों को हिरासत में लिया है।
प्राप्त विवरण के मुताबिक जिले घूरपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली पीड़ित किशोरी बीती 20 सितंबर को किशोरी अपने छोटे दो भाइयों को सरगम के समीप मामा के यहां छोड़ने गई थी। भाइयों को छोड़ने के बाद वह साइकिल से घर लौट रही थी। नैनी के तेंदुआवन गांव के बरम बाबा के समीप पांच युवकों ने उसे अगवा कर लिया। लड़की को बेहोशी की दवा सुंघाकर बाइक से लेकर पांचों युवक फरार हो गए। उधर जब शाम तक किशोरी जब घर नहीं पहुंची तो परिवार के लोगों को चिंता हुई। स्वजनों ने किशोरी को ढूंढना शुरू किया। जब वह नहीं मिली तो दूसरे दिन घूरपुर थाने को सूचना दी गई। उधर कई दिनों तक किशोरी से एक स्थान पर सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद आरोपी रविवार की रात युवक किशोरी को छिवकी रेलवे स्टेशन के समीप बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए। किशोरी वहां से किसी तरह अपने मामा के घर पहुंची और अपनी आपबीती सुनाई। परिवार के लोग किशोरी को लेकर घूरपुर थाने पहुंचे। किशोरी का बयान दर्ज करने के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को हिरासत में ले लिया।